बुधवार, 24 मार्च 2010

जब जब असभ्य इरविन कोई इतराएगा..तब तब यह भारत,भगतसिंह बन जाएगा




१ 
जब कायरता को लोग अहिंसा मानेगे.
जब जब असत्य को सत्य मान, अपना लेगे.

जब जब धरती अपनो से ही आकुल होगी.
जब हुक्मरान होगे निर्दयी,मनोरोगी.

तब तब भारत अपना पौरुष छलकायेगा.
सुखदेव, राजगुरु,भगत सिंह बन जाएगा.

२  

जब जब समता का फूल कहीं कुम्हलाएगा.
जब आज़ादी का दीप बुझाया जाएगा.

जब जब  इंसानी इज्ज़त खतरे में होगी.
जब सत्ता पर काबिज़ होगा कोई भोगी 

जब जब असभ्य इरविन कोई इतराएगा .
तब तब यह भारत,भगत सिंह बन जाएगा.

----अरविंद पाण्डेय

15 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत बढ़िया.

    -

    हिन्दी में विशिष्ट लेखन का आपका योगदान सराहनीय है. आपको साधुवाद!!

    लेखन के साथ साथ प्रतिभा प्रोत्साहन हेतु टिप्पणी करना आपका कर्तव्य है एवं भाषा के प्रचार प्रसार हेतु अपने कर्तव्यों का निर्वहन करें. यह एक निवेदन मात्र है.

    अनेक शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  2. Bahut achchha , sateek blog hai sir
    aapki aawaz to expert singers se bhi adhik melodius hai. great .....

    उत्तर देंहटाएं
  3. मुझे लगता है ...अभी भारत के भगत सिंह बनने के सभी कारण मौजूद हैं ....!!

    उत्तर देंहटाएं
  4. परम आदरणीय सर,
    आपकी कविता का एक - एक अंश को हमने बहुत ही ध्यानपूर्वक पढ़ा , सर समझने में समय तो बड़ा लगा, परन्तु समझ जरूर गया , उसके बाद हमको अपनी विशेष टिपण्णी लिखे बिना मन नहीं माना , इस लिए रात्रि में लिख रहा हूँ !
    सर आप तो सचमुच बहुत ही अभूतपूर्व प्रतिभाशाली के धनी व्यक्ति है . आपकी कविता क़ि हर एक शब्द ,हर एक पंक्ति में बहुत ही स्पस्ट राज छिपा हैं , और मैं भी चाहूँगा क़ि हर एक व्यक्ति आपकी कविता को पढ़कर खुद से समझने का प्रयतन करे , हम ही नहीं हमारे भारतवर्ष का हर एक संवेदनशील व्यक्ति आपकी कविता को पढ़ कर बोलेंगे ,,क़ि मैं भी भारत हूँ , और मैं भी सुखदेव, राजगुरु,भगत सिंह बनने के लिए तैयार हूँ..( नोट : इस कविता के हर एक पंक्ति का अर्थ और सार लिखने में न जाने कितने कॉपी के पन्ने लग जायेंगा , इस लिए बहुत ही छोटी टिपण्णी लिखा हूँ . )
    जय हिंद !!!!!!

    उत्तर देंहटाएं
  5. परम आदरणीय सर , इतिहास भी इस बात का साक्ष्य है ....जय हिंद

    उत्तर देंहटाएं
  6. You are a unique personality.My deep complements.

    SK TYAGI, Roorkee

    उत्तर देंहटाएं
  7. BAHUT ACHHA HAI........?
    UNAKE LIYE JO NET PAR BATHE HOTE HAI......JINKA JIWAN SE MATLAB KAM KHANA AUR ACHHA KAHANA HOTA HAI(POSITIVE MIND KI DUHAI DENA).MERA MATLAB HAI KYA YE KAVITA BIHAR(AWAM) BADALNE KI TAKAT RAKHATA HAI .....? IRWIN SE ADHIK BHRAST LOG INDIA AUR BIHAR ME HAI .AAB BHAGAT SINGH APANE LOGO SE LARNE KE LIYE BANAIYE...............

    OMSINGH

    उत्तर देंहटाएं

आप यहाँ अपने विचार अंकित कर सकते हैं..
हमें प्रसन्नता होगी...